सिख पंथ के संस्थापक श्री गुरु नानक देव जी महाराज का 553वां प्रकाश उत्सव को लेकर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है. शुक्रवार को तख्त साहिब से अहले सुबह पंच प्यारों की अगुवाई और धार्मिक नारों के साथ प्रभात फेरी निकाली गयी.

प्रभात फेरी तख्त श्री हरमंदिर साहिब से निकल कर अशोक राजपथ के रास्ते सोनार टोली गुरुद्वारा पहुंची, यहां दर्शन करने के बाद वहां से वापस लौटी. प्रभात फेरी में संयोजक दर्शन सिंह, तेजिंदर सिंह, प्रेम सिंह, रंजीत सिंह व इंद्रजीत सिंह बग्गा समेत काफी संगत शामिल थीं.

प्रभात फेरी का समापन छह नवंबर को होगा

आज तख्त साहिब से निकलने वाली प्रभात फेरी गुरु के बाग स्थित गुरुद्वारा जायेगी. प्रकाश उत्सव का मुख्य समारोह आठ नवंबर को तख्त श्री हरमंदिर जी पटना साहिब में मनाया जायेगा. इस दिन विशेष दीवान सजेगा. प्रभात फेरी का समापन छह नवंबर को बड़ी प्रभात फेरी से होगा. गुरु के बाग स्थित गुरुद्वारा में शनिवार को श्री गुरु ग्रंथ साहिब का अखंड पाठ रखा जायेगा. जिसका समापन सात नवंबर को विशेष दीवान के साथ होगा. इसके बाद झूलते निशान साहिब के साथ गुरु के बाग स्थित गुरुद्वारा से नगर कीर्तन निकाली जायेगी. जो तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब तक आयेगा. इसके अगले दिन प्रकाश उत्सव का मुख्य समारोह मनाया जायेगा.

श्री गुरु ग्रंथ साहिब का अखंड पाठ होगा

सिख पंथ के संस्थापक गुरु नानक देव जी महाराज 553वां की चार दिवसीय जयंती समारोह शनिवार को गुरु के बाग स्थित गुरुद्वारा में श्री गुरु ग्रंथ साहिब के 48 घंटे के पाठ से आरंभ होगी. तख्त साहिब में प्रकाश पर्व को लेकर रविवार को श्री गुरु ग्रंथ साहिब का अखंड पाठ रखा जायेगा. इसका समापन मुख्य समारोह के दिन आठ नवंबर को होगा. उस दिन विशेष दीवान सजेगा. जिसमें शबद कीर्तन व कथा प्रवचन के साथ अन्य धार्मिक अनुष्ठान होगा. प्रकाश पर्व को लेकर निकल रही प्रभात फेरी का समापन रविवार को बड़ी प्रभात फेरी से होगी. शनिवार को निकलने वाली प्रभात फेरी तख्त साहिब से निकल कर गुरु के बाग स्थित गुरुद्वारा जायेगी.

कब कौन सा कार्यक्रम

पांच नवंबर : तख्त साहिब से प्रभात फेरी निकाली जायेगी. गुरु के बाग गुरुद्वारा में श्री गुरु ग्रंथ साहिब का अखंड पाठ होगा.

छह नवंबर : बड़ी प्रभात फेरी का समापन और सालस राय जौहरी दीवान हॉल में अखंड पाठ का आयोजन

सात नवंबर : अखंड पाठ का समापन व अरदास, गुरु के बाग में विशेष दीवान सजेगा जिसमें शबद कीर्तन व कथा प्रवचन होगा.

आठ नवंबर : प्रकाश पर्व का मुख्य समारोह मनाया जायेगा. सुबह में विशेष दीवान सजेगा. जो रात एक बजकर 20 मिनट तक चलेगा