दिग्गज नेता गुलाम नबी आजाद के इस्तीफे के बाद तेलंगाना में कांग्रेस को झटका लगा है। गुलाम नबी आजाद के कांग्रेस से इस्तीफे के एक दिन बाद तेलंगाना के एक वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद एमए खान ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने भी आजाद की तरह राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा है। 

तेलंगाना के एम ए खान ने राहुल गांधी पर आरोप मढ़ते हुए शनिवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया. वे वर्तमान में कांग्रेस के विधायक हैं। कांग्रेस में इस घटनाक्रम पर हर तरफ से प्रतिक्रियाएं आई हैं। एमए खान ने पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि उनका पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ व्यवहार सही नहीं है। उनके काम करने की अलग ही प्रक्रिया है जिसके बारे में कोई नहीं जानता।

जिस तरह से गुलाम नबी आजाद ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को 5 पन्नों में लिखे अपने पत्र में राहुल गांधी की बचकानी हरकतों को पार्टी के पतन के लिए जिम्मेदार ठहराया है, उसी तरह से MLA एमए खान ने भी पत्र लिखा है। उन्होंने कहा है कि 'जब से राहुल गांधी कांग्रेस पार्टी के उपाध्यक्ष बने हैं तब से पार्टी का लगातार पतन हो रहा है।' एमए खान ने कहा, “राहुल गांधी की अपनी एक अलग विचार प्रक्रिया है, जो ब्लॉक स्तर से लेकर बूथ स्तर तक किसी भी सदस्य से मेल नहीं खाती। पार्टी ऐसी स्थिति में पहुंच गई है जहां दशकों से पार्टी के लिए जी जान लगाने वाले वरिष्ठ नेता कांग्रेस छोड़ रहे हैं।” उन्होंने कहा कि 'राहुल गांधी को नहीं पता कि वरिष्ठ नेताओं के साथ कैसा व्यवहार करना चाहिए। एमए खान ने कहा कि मेरे पास पार्टी के संचालन में भाग नहीं लेने के सिवा कोई विकल्प नहीं बचा है।'

आपको बता दें कि गुलाम नबी आजाद के जाने के बाद शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के 5 नेताओं ने भी पूर्व मुख्यमंत्री का समर्थन करते हुए पार्टी छोड़ दी थी। लगातार हो रहे इस्तीफों से देश की सबसे पुरानी पार्टी की मुश्किलें बढ़ रही हैं।