मैक्स एयरक्राफ्ट के पायलटों को खराब सिम्यूलेटर पर ट्रेनिंग देने के लिए, DGCA ने स्पाइसजेट पर 10 लाख रुपये का लगाया जुर्माना

मैक्स एयरक्राफ्ट के पायलटों को खराब सिम्यूलेटर पर ट्रेनिंग देने के लिए, DGCA ने स्पाइसजेट पर 10 लाख रुपये का लगाया जुर्माना

विमानन नियामक DGCA ने स्पाइसजेट पर बोइंग 737 मैक्स विमान के पायलटों को एक खराब सिम्युलेटर पर प्रशिक्षण देने के लिए 10 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है, क्योंकि इससे उड़ान सुरक्षा पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है. DGCA ने पिछले महीने 90 स्पााइसजेट पायलटों पर मैक्स एयरक्राफ्ट उड़ाने से बैन कर दिया था. उसे यह पता चला था कि पायलटों को सही ट्रेनिंग नहीं दी गई है.
पायलटों पर पाबंदी लगाने के बाद, रेगुलेटर ने एयरलाइन को शोकेस नोटिस जारी किया था. DGCA के मुताबिक, एयरलाइन द्वारा भेजे गए जवाब को सही नहीं पाया गया. एयलाइन द्वारा दी जा रही ट्रेनिंग से फ्लाइट की सुरक्षा पर बुरा असर पड़ सकता है और इसलिए इसे शून्य माना गया है. रिपोर्ट में बताया गया है कि इसलिए, DGCA ने उसके मैक्स एयरक्राफ्ट के पायलटों को ट्रेनिंग में खराब सिम्यूलेटर इस्तेमाल करने देने के लिए 10 लाख रुपये की पेनल्टी लगाई है.



 

Share this story