जहां एक तरफ बेरोजगारी की बात होती है तो वहीं नौकरी देने के मामले में अमेरिका व चीन से भी आगे भारत का रक्षा मंत्रालय और सेना दुनिया में सबसे आगे है। दुनिया भर के विभिन्न आंकड़े तैयार करने वाला जर्मनी स्थित 'स्टेटिस्टा' इन्फोग्राफिक निजी संगठन इस बात का दावा कर रहा है। स्टेटिस्टा की साल 2022 की रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया में सबसे ज्यादा नौकरी देने वाला भारत का रक्षा मंत्रालय नियोक्ता संस्थान है।

जिसने साल 2022 में सेना के तीनों विभागों में 29.2 लाख लोगों को नौकरी दी है। वहीं, इस लिस्ट में अमेरिका दूसरे नंबर पर है। अमेरिका के रक्षा मंत्रालय में 2.91 मिलियन लोग नौकरी करते हैं। वहीं, तीसरे नंबर पर नाम आता है चीन का। चीन के रक्षा मंत्रालय में 25 लाख लोग नौकरी करते हैं।

स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट के मुताबिक, साल 2021 में पांच सबसे बड़े खर्च करने वाले संयुक्त राज्य अमेरिका, चीन, भारत, यूनाइटेड किंगडम और रूस थे। साल 2021 में अमेरिकी सैन्य खर्च 8 करोड़ 1 लाख था, जबकि दुनिया के दूसरे सबसे बड़े खर्च करने वाले चीन ने अपनी सेना को अनुमानित रूप से 2 करोड़ 93 लाख आवंटित किए।

भारत का 7 करोड़ 66 लाख का सैन्य खर्च दुनिया में तीसरे स्थान पर है। स्टेटिस्टा के रिसर्च के बाद आई रिपोर्ट से साफ हो गया है कि भारत का सेना कितनी मजबूत है जो दुनिया के तकातवर देशों से कहीं आगे है।