मध्य प्रदेश :  मध्य प्रदेश के बुरहानपुर ने  एक बड़ा मुकाम हासिल किया है, अब यह जिला राज्य का पहला सर्टिफाइड 'हर घर जल' जिला बन गया है. यहां ग्रामीण जल जीवन मिशन के तहत 100 फीसद कार्य हुआ है और हर घर में नल से शुद्ध और स्वच्छ पेयजल पहुंचने लगा है.  इस उपलब्धी को लेकर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने ट्वीट कर राज्य की शिवराज सरकार और बुरहानपुर वासियों को बधाई दी है.

जिसके बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट करते हुए बुरहानपुर वासियों के सामूहिक प्रयास और प्रशासन के आपसी समन्वय की तारीफ करते हुए सभी को बधाई दी है.

 सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्वीट करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी के प्रति आभार व्यक्त किया है. सीएम शिवराज ने ट्वीट करते हुए कहा कि 'माननीय प्रधानमंत्री जी, आपकी अमूल्य शुभकामनाओं के लिए मध्यप्रदेश और विशेषकर बुरहानपुर की जनता की ओर से हृदय से आभार व्यक्त करता हूं. आपकी प्रेरणा से ही इस संकल्प की सिद्धि हुई है. जनसेवा व समाज की उन्नति के आपके पुनीत प्रयासों को मध्यप्रदेश पूर्ण करने के लिए संकल्पित है.' इससे पहले केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने होने ट्वीट में लिखा कि 'बुरहानपुर के सभी नागरिकों को बधाई. अगस्त 2019 में केवल 37 फीसदी घरों से तीन वर्षों से भी कम समय में 100% तक, मध्य प्रदेश का बुरहानपुर देश का पहला हर घर जल प्रमाणित जिला बन गया है.'

बुरहानपुर में नल जल जीवन मिशन के तहत 215 ग्रामों हेतु 214 योजनाएं 129.42 करोड़ रुपए की मंजूरी प्राप्त कर 72 RCC उच्च गुणवत्ता युक्त टंकियों का निर्माण, 107 संपवेल निर्माण और 646 किलोमीटर की पाइप लाइन बिछाकर ग्रामीण क्षेत्र में निवासरत ग्रामीणों को नल से शुद्ध और स्वच्छ पेयजल मुहैया करवाया जा रहा है। बता दें कि मार्च में सीएम शिवराज, बुरहानपुर के ग्राम खड़कोद में जल सम्मेलन में पहुंचे थे और उन्होंने यहां पर बुरहानपुर को ग्रामीण नल जल योजना में कार्य पूर्ण होने पर राज्य का पहला जिला घोषित कर दिया था. उन्होंने पानी रोकने के लिए सबसे अधिक तालाब निर्माण करने का भी लक्ष्य बुरहानपुर को दिया, जिसके बाद आज बुरहानपुर में 75 तालाबों का निर्माण किया गया, जहां पर अच्छी वर्षा के कारण तालाब में पानी लबालब भर चुका है.