ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के वनडे और T20 के कप्तान एरोन फिंच ने वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है.

फिंच ने शनिवार सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एकदिवसीय प्रारूप से संन्यास लेने का ऐलान किया. वे रविवार को केर्न्स में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपना 146वां और अंतिम वनडे इंटरनेशनल मैच खेलेंगे. हालांकि, वह T20 क्रिकेट खेलते रहेंगे और आगामी T20 वर्ल्ड कप 2022 में टीम का नेतृतव करते नजर आएंगे.

खराब फॉर्म के चलते किया फैसला

एरोन फिंच पिछले कुछ समय से बेहद खराब फॉर्म से जूझ रहे थे. फिंच ने पिछले 7 परियों में केवल 26 रन बनाये हैं. 2013 में डेब्यू करने वाले फिंच ने संन्यास की घोषणा करते हुए कहा 'कुछ शानदार यादों के साथ ये अविश्वस्नीय सफर रहा है. मैं इस शानदार वनडे टीम का हिस्सा बनकर काफी खुश हूं. मैं जिन लोगों के साथ खेला उनका साथ पाकर भी अपने आप को भाग्यशाली मानता हूं. मेरे इस सफर में जिन लोगों ने मेरा साथ दिया और मेरी मदद की उन सभी का शुक्रिया.' बता दें कि फिंच ने 2023 वनडे वर्ल्ड कप को अपना अंतिम लक्ष्य बताया था, 

फिंच का क्रिकेट करियर

फिंच ने अपने करियर में अबतक 5 टेस्ट मैच, 145 वनडे मैच और 92 T20 मैच खेले हैं. वनडे और T20 में उनका प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है. फिंच ने 145 वनडे मैचों में 17 शतक और 30 अर्धशतक लगाए हैं. इसमें उन्होंने 39.14 की औसत से 5401 रन बनाए हैं. वहीं T20 क्रिकेट में उनके नाम दो शतक और 17 अर्धशतक शामिल हैं. उन्होंने T20 में 2855 रन बनाए हैं. इसके अलावा फिंच ने आईपीएल में 92 मैच खेलकर 2091 रन बनाए हैं. आईपीएल में उन्होंने 15 अर्धशतक लगाए हैं. बता दें कि ऑस्ट्रेलिया ने फिंच की कप्तानी में ही 2021 का T20 विश्व कप जीता था. तब ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को हराकर ये खिताब अपने नाम किया था.