एशिया कप फाइनल में पहुंचने के लिए भारत को मंगलवार को खेले जाने वाले सुपर4 मुकाबले में श्रीलंका को पराजित करना होगा। श्रीलंका और पाकिस्तान सुपर चार में एक-एक मैच जीत चुके है, जबकि भारत को अपने पहले मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा है। अगर भारत फाइनल की दौड़ से बाहर नहीं होना चाहता तो उसे श्रीलंका के खिलाफ यह मुकाबला हर हाल में जीतना ही होगा। श्रीलंका के पास वाङ्क्षनदू हसरंगा और महीष तीक्षणा के रूप में दो स्पिनर हैं जिनके आठ ओवरों में भारतीय बल्लेबाजी का रवैया मैच को काफी हद तक प्रभावित करेगा।

रोहित शर्मा, केएल राहुल और विराट कोहली के जिम्मेदार कंधों के ऊपर इनसे निपटने की बड़ी जिम्मेदारी होगी। दूसरी ओर भारत अब भी ऋषभ पंत बनाम दिनेश कार्तिक की बहस का हल नहीं निकाल सका है। पाकिस्तान के खिलाफ मैच में पंत को मौका दिया गया, लेकिन वह 12 गेंदों में सिर्फ 14 ही रन बना सके। अगर श्रीलंका के खिलाफ दिनेश कार्तिक टीम में वापसी करते हैं तो वह फिनिशर की कमी भी पूरी कर सकते हैं। चहल की खराब फॉर्म भी भारत के लिए चता का विषय है। उन्होंने एशिया कप 2022 में 12 ओवर 93 रन दिए हैं और सिर्फ एक विकेट हासिल की है। भारत ने श्रीलंका के खिलाफ 24 T20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में से 17 में जीत दर्ज की है, लेकिन अपने पिछले 2 मैचों में बंगलादेश और अफगानिस्तान पर बड़ी जीतें दर्ज करके श्रीलंका आत्मविश्वास से भरी हुई है और एशिया कप के फाइनल में पहुंचने के लिए रोहित शर्मा की टीम श्रीलंका को कड़ी टक्कर देगी।

फाइनल में पहुंचने को समीकरण

सुपर 4 में राउंड में भारत को अगला मुकाबला श्रीलंका के खिलाफ 6 सितंबर को खेलना है, वहीं आखिरी भिड़ंत 8 सितंबर को अफगानिस्तान के साथ होगी। अगर भारत अगले 2 मैच जीतता है, तो अफगानिस्तान सीधा टूर्नामेंट से बाहर हो जाएगी। वहीं अगर श्रीलंका पाकिस्तान को पटकनी देने में कामयाब रहता है, तो पेच नेट रन रेट पर जाकर फंसेगा। सभी टीमों ने अभी तक एक-एक मैच खेल लिया है। ऐसे में श्रीलंका 0.589 नेट रन रेट का साथ टॉप पर है, वहीं पाकिस्तान (0.126) दूसरे पायदान पर है। अगर भारत को दोनों मैच जीतकर टॉप टू में बने रहना है, तो अगले दो मुकाबले बड़े अंतर से जीतने होंगे। भारत का नेट रन रेट अभी -0.126 है। अब भारत केा श्रीलंका के आगामी मैचों पर भी नजर रखनी होगी।

अश्विन की उड़ाई खिल्ली

एशिया कप 2022 में भारत और पाकिस्तान के बीच 2 मैच खेले गए और दोनों टीमों ने एक-एक मैच जीता है। मैच में टीम इंडिया के स्पिनर युजवेंद्र चहल की जमकर धुलाई हुई। चहल ने अपने 4 ओवर के कोटे में 43 रन लुटाए और इसके बाद सबकी जुबां पर एक ही सवाल है कि आर अश्विन को प्लेइंग-11 में क्यों मौका नहीं मिल रहा है। मोहम्मद हफीज ने इसका जवाब दिया है। हफीज ने कहा कि अश्विन से 8 साल पहले जो गलती हुई थी, उसकी वजह से उन्हें भारत वर्सेज पाकिस्तान के हाल के मैचों में नहीं प्लेइंग-11 में जगह नहीं मिल रही है।