दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के टर्मिनल टू में मंगलवार को बड़ा हादसा होने से टल गया। यहां एयरपोर्ट पर खड़े इंडिगो के एक यात्री विमान के पहिए के नीचे एक कार आ गई। यह कार विमान के पहिए से टकराते टकराते बची। इस दौरान बड़ा हादसा होते-होते टल गया।

खबरों के मुताबिक इंडिगो का प्लेन 6E2002 पटना जाने के लिए उड़ान भरने को तैयार था। तभी एक कार प्लेन के पहिये के नीचे आ गई थी। इस घटना के बाद अफरा-तफरी मच गई। हालांकि बाद में फ्लाइट नियत समय से पटना के लिए रवाना हो गई। इस पूरे मामले में जांच का आदेश दिया गया है।

विमान के नीचे आने वाली कार गो फर्स्ट कंपनी की थी। गो फर्स्ट कंपनी सूत्रों ने बताया कि कार के प्लेन के नीचे आने से इंडिगो विमान को कोई क्षति नहीं पहुंची है। ड्राइवर ने इंडिगो के पहिये के ठीक नीचे कार रोक दी थी।


इस पूरे हादसे पर इंडिगो एयरलाइंस का बयान भी आया है। उसने कहा है कि इसमें किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ है। एयरलाइंस का कहना है कि विमान अपने पूर्व निर्धारित समय पर ही रवाना हुआ है। इस मामले में आगे की जांच की जा रही है। नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) हवाई अड्डे के टर्मिनल टी-2 के स्टैंड नंबर 201 पर हुई घटना की जांच करेगा। डीजीसीए के अधिकारियों ने यह जानकारी दी है।