मोदी सरकार गरीबों के लिए कई तरह की योजनाएं चलाती है, ताकि इन लोगों तक आर्थिक मदद के अलावा अन्य लाभ पहुंचाने का काम किया जा सके. इसके तहत ही पीएम किसान योजना केंद्र की मोदी सरकार चलाती है और अब तक योजना के 11 किस्‍त खाते में आ चुके हैं. सितंबर का महीना खत्म होने को है और कुछ दिनों में त्योहारों का महीना अक्टूबर आने वाला है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नवरात्रि में किसानों के खातों में मोदी सरकार 12वीं किस्‍त डाल सकती है.

किसानों के लिए केंद्र सरकार द्वारा PM किसान सम्मान निधि योजना को चलाया जा रहा है जिसके तहत किसानों को साल में 6 हजार रुपये दिये जाते हैं. किसानों के खातों में साल में दो-दो हजार करके 3 बार ये राशी डालती है. लेकिन शायद आप ये नहीं जानते होंगे कि इस बार आने वाली 12वीं किस्त का लाभ कुछ किसानों को सरकार की ओर से नहीं मिल पायेगा. आइए जानते हैं कि किन किसानों के किस्त के पैसे अटक सकते हैं.

पीएम किसान योजना से जुड़े हुए लाभार्थियों ने यदि ई-केवाईसी नहीं करवाई, तो उनकी 12वीं किस्त के पैसे अटक सकते हैं. आपको बता दें कि ई-केवाईसी की आखिरी तारीख 31 अगस्त 2022 थी. हालांकि, आप ये यदि नहीं करवा पाये हैं तो अपने नजदीकी सीएससी केंद्र पर ओटीपी बेस्ड केवाईसी जाकर करवा लें.

पीएम किसान योजना का लाभ केवल उन्हीं किसान को दिया जाता है, जो इस योजना के लिए पात्र हैं. लेकिन ऐसी बात सामने आयी है कि कई किसान अपात्र होते हुए भी गलत तरीके से इस योजना का लाभ ले रहे हैं.आपके किस्त के पैसे अटकने के चांस हैं. साथ ही आपके नाम पर नोटिस जारी हो सकता है. ऐसे किसानों से रिकवरी भी सरकार कर रही है 

यदि आपने आवेदन फॉर्म को भरते समय कोई गलती कर दी है तो भी आपके खाते में पैसे नहीं भी आ सकते हैं. जैसे- यदि आपने अपना नाम अंग्रेजी की जगह पर हिंदी में लिख दिया है या फिर फॉर्म में जेंडर भरना भूल गये हैं तो ऐसी स्थिति में भी किस्त के पैसे अटक सकते हैं. इसके अलावा भी कई गलतियां इसके तहत आतीं हैं.

कब आएगी पीएम किसान की 12वीं किस्त

पीएम किसान योजना के लाभार्थियों को अब तक 11 किस्त के पैसे मिल चुके हैं. इसलिए सभी किसानों को 12वीं किस्त का इंतजार है. सितंबर महीने के अंत में किसी भी दिन 12वीं किस्त किसानों के पैसे खाते में आ सकते हैं.