केरल के कन्नूर जिले में आरएसएस कार्यालय पर बम फेंका गया है। हमले में इमारत की खिड़की के शीशे टूट गए। पय्यान्नूर पुलिस के अनुसार, इस घटना में फिलहाल किसी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है। पुलिस टीम मामले की जांच में जुट गई है।  आगे की जांच जारी है। यह हमला किसने और किस इरादे से किया? फिलहाल इसकी कोई जानकारी सामने नहीं आई है। पुलिस हर स्तर से जांच कर रही है।

इस घटना पर BJP के टॉम वडक्कन ने टिप्पणी करते हुए लिखा कि यह चौंकाने वाला और दुर्भाग्यपूर्ण है कि कानून और व्यवस्था की स्थिति सामाजिक संगठनों पर बम फेंकने के स्तर तक बिगड़ गई है। यह नागरिक समाज में स्वीकार्य नहीं है। इससे पहले भी आरएसएस कार्यकर्ताओं पर हमले हुए हैं। इस तरह की कानून-व्यवस्था की स्थिति से जल्दी से निपटना होगा। इसके लिए पुलिस और राज्य प्रशासन जवाबदेह हैं। 

टॉम वडक्कन ने कहा कि पुलिस की मिलीभगत बहुत खतरनाक है। ऐसे उदाहरण हैं जहां पुलिस स्टेशन 100 मीटर दूर है और फिर भी कुछ नहीं होता है। कार्यालयों को विशेष रूप से कन्नूर जैसे संवेदनशील जिले में संरक्षित किया जाना है। ऐसा नहीं किया गया है। लापरवाही के साथ मिलीभगत। मुझे यह कहते हुए खेद है।