शिक्षा विभाग के सीनियर क्लर्क धनकुबेर के घर पर छापेमारी के दौरान करोड़ों की संपत्ति मिलने से हड़कंप मच गया थाा उसके बाद जब केसवानी की पत्नी का रिकॉर्ड खंगाला गया तो ईओडब्ल्यू की टीम चौंक गई. केसवानी ने ज्यादातर प्रॉपर्टी पत्नी के नाम पर ही कर रखी थी और धनकुबेर के पेट की चाबी पत्नी के पास मिली.

इस पूरे मामले में EOW ने केसवानी की पत्नी को भी सह आरोपी बनाया है और अब केसवानी की पत्नी नैना से भी ईओडब्ल्यू की टीम संपत्ति के बारे में पूछताछ करेगी. नैना के बैंक अकाउंट में लाखों रुपए पाए गए हैं उसके बाद से अन्य परिजनों के अकाउंट पर भी ईओडब्ल्यू की टीम नजर बनाए हुए हैं. क्लर्क की पत्नी नैना गृहणी है और उसके पास इतना पैसा कहां से आया है इसके विषय में की टीम पूछताछ करेगी.

दरअसल राजधानी भोपाल में डब्लू की टीम ने बुधवार तड़के चिकित्सा शिक्षा विभाग के सीनियर क्लर्क हीरो केसवानी के यहां छापे मार कार्रवाई की थी. जिसमें करीब 86 लाख रुपए केश और ₹5लाख के गहने और 12 प्रॉपर्टी के दस्तावेज बरामद किए थे. जिसकी कीमत 4 करोड़ रुपए थी. जिसमें अधिकतम प्रॉपर्टी केसवानी की पत्नी नैना केसवानी के नाम पर थी. इस पूरे मामले में ईओडब्ल्यू की टीम ने उसकी पत्नी नैना केसवानी को भी सह आरोपी बनाया है. नैना केसवानी गृहणी है उसके बावजूद उसके पास इतनी प्रॉपर्टी कहां से आई इसकी पूछताछ ईओडब्ल्यू की टीम करेगी. 54 वर्षीय केसवानी के दो लड़के हैं. एक गवर्नमेंट नौकरी में क्लर्क है तो दूसरा प्राइवेट नौकरी करता है. वहीं केसवानी अपनी लाइफ एशो आराम से जीता था और जब ईओडब्ल्यू की टीम ने केसवानी के घर पर छापा मारा तो उस दौरान केसवानी के घर की सजावट देख ईओडब्ल्यू के अधिकारी भी चौंक गए थे.

छापेमेरी के बाद केसवानी ने पी लिया था टॉयलेट क्लीनर

जांच के दौरान नैना केसवानी के नाम पर ही अधिक प्रॉपर्टी ईओडब्ल्यू की टीम ने पाई और फिर उसके बाद जब टीम ने अकाउंट की चेकिंग की तो उसमें भी लाखों रुपए पाए. ईओडब्लू की टीम केसवानी की तबीयत ठीक होने का इंतजार कर रही है. जल्द ही दंपत्ति से संपत्ति के बारे में पूछताछ करेगी. दरअसल केसवानी के घर जब बुधवार को ईओडब्लू की टीम ने छापामार कार्रवाई की तो पहले केसवानी ने टीम के साथ झूमा झटकी की और फिर उन्हें डराने के लिए टॉयलेट क्लीनर पी लिया था जिससे केसवानी की तबीयत खराब हो गई थी और अब उसके इलाज के बाद ईओडब्ल्यू की टीम उससे पूछताछ करेगी. अभी केसवानी खतरे से बाहर है. जांच में पता चला कि केसवानी का भोपाल से बैरागढ़ में बीच मिनी मार्केट में करीब ₹1करोड़ 50 लाख का बंगला भी है.