मध्य प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सूबे में सियासी हलचल तेज हो गई है. राज्य की सत्ता पर काबिज BJP और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस दोनों ही दल चुनाव की तैयारियों में जुट गई है.

इसी कड़ी में बीजेपी और कांग्रेस ने बूथ स्तर पर पकड़ बनाने के लिए अपनी सक्रियता भी बढ़ा दी है. इन सबके बीच, कांग्रेस का दावा है कि बीजेपी के कई विधायक हमारे संपर्क में है. इसके जवाब में बीजेपी ने कहा है कि कांग्रेस के कुछ विधायकों ने भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने की इच्छा जताई है.

कमलनाथ बोले- BJP के कई विधायक कांग्रेस के संपर्क में

मध्य प्रदेश प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रमुख कमलनाथ ने दावा किया है कि बीजेपी के कई विधायक उनके संपर्क में है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के संपर्क में आने वाले ये सभी विधायक 2023 के मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस से टिकट की मांग कर रहे हैं. हालांकि, कमलनाथ ने कहा कि भले ही BJP के विधायक उनसे संपर्क कर रहे हों, लेकिन टिकट बंटवारे के समय संगठन के लोगों को ही प्राथमिकता दी जाएगी. पूर्व सीएम कमलनाथ ने यह भी कहा कि जिन बीजेपी विधायकों को टिकट नहीं मिलने वाली है, वही कांग्रेस से संपर्क साध रहे हैं.कमलनाथ ने कांग्रेस विधायक लाखन सिंह के उस बयान की पुष्टि की, जिसमें उन्होंने कहा था कि बीजेपी के बहुत सारे विधायक उनके संपर्क में है. बता दें कि कांग्रेस विधायक लाखन सिंह ने कहा था कि बीजेपी के कई विधायक कांग्रेस नेताओं के संपर्क में हैं और चुनाव से पहले इनका पार्टी बदलने का प्लान कर सकते हैं.

शिवराज सरकार में मंत्री भूपेंद्र सिंह का कांग्रेस को जवाब

वहीं, कांग्रेस के इस दावे पर पलटवार करते हुए शिवराज सिंह सरकार में मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि लोग खुद कांग्रेस छोड़कर जा रहे हैं. मध्य प्रदेश में भी ऐसी ही परिस्थितियां हैं. उन्होंने कहा कि पहले कई लोगों ने कांग्रेस छोड़ी है और अभी भी कई लोग कांग्रेस छोड़ने के लिए हमसे संपर्क कर रहे हैं. इसी वजह से कांग्रेस भयभीत है. उन्होंने कहा कि यही कारण है कि कांग्रेस अपने विधायकों को बंधक बनाने की कोशिश कर रही है. उन्होंने कहा कि अगर कोई स्वेच्छा से बीजेपी में आना चाहता है, तो इस पर विचार करेंगे. गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में अगले साल 2023 में विधानसभा के चुनाव होने हैं. कांग्रेस में तो लगभग तय है कि चुनाव कमलनाथ के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा.