संवाददाता अमित कुमार गुप्ता 

Sagar : मध्यप्रदेश के सागर जिला अस्पताल की मॉर्चुरी से सबसे बड़ी लापरवाही की खबर सामने आई है, जिसमें यहां की मॉर्चुरी में पीएम के लिए रात में रखे गए एक मृतक के शव की एक आंख यहां घुसे चूहों द्वारा कुतर ली गई थी।

मामले का खुलासा होने के बाद MP मानव अधिकार आयोग  ने इस मामले पर एक्शन ले लिया है। आयोग ने सागर सीएमएचओ को नोटिस जारी कर जवाब-तलब किया है।

मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग ने जिला अस्पताल सागर के पोस्टमार्टम कक्ष में एक युवक के शव की आंख को चूहे द्वारा कुतर दिए जाने की घटना पर स्वत: संज्ञान लिया है। आयोग के कार्यवाहक अध्यक्ष मनोहर ममतानी एवं सदस्य राजीव कुमार टंडन ने मामले को गंभीरता से लेते हुए सागर सीएमएचओ डॉ. ममता तिमोरी के लिए नोटिस जारी किया है। नोटिस में घटना का उल्लेख करते हुए कहा गया है कि घटना की जांच कराकर पोस्टमॉर्टम कक्ष की सुरक्षा व्यवस्था एवं मृतकों के शवों को सम्मानपूर्वक रखना सुनिश्चित करते हुए इस मामले में की गई आवश्यक कार्यवाही का प्रतिवेदन एक माह के अंदर भेजा जाए।

सागर जिले के आमेट गांव निवासी मोती पिता बारेलाल गौंड की आकस्मित मृत्यु के बाद उसके शव को मंगलवार को पोस्टमॉर्टम हाउस में रखवा दिया था। सुबह पीएम किया जाना था। जब सुबह पोस्टमॉर्टम के लिए डॉक्टर पहुंचे, तो शव की एक आंख नहीं थी, उससे खून निकल रहा था। आरएमओ डॉ. अभिषेक ठाकुर ने चूहों द्वारा आंख को कुतरे जाने की आशंका जताई है। सागर में पहली दफा सामने आए इस तरह के मामले से हड़कंप मचा हुआ है। बता दें कि जिला अस्पताल में दो बॉडी फ्रीजर उपलब्ध हैं, लेकिन तकनीकि फॉल्ट के कारण वे कई महीनों से बंद पड़े हुए हैं।