मेरठ जिले की योगीपुरम चौकी में शनिवार रात पुलिसकर्मियों के बीच भिड़ंत हो गई। पुलिस कर्मियों के बीच जमकर खूनी संघर्ष हुआ। पुलिसकर्मियों ने एक-दूसरे पर धारदार हथियारों से हमला किया। देर रात को हुई इस चाकूबाजी में एक सिपाही भी घायल हो गया।

मामला कंकरखेड़ा की योगीपुरम चौकी का है। बताते हैं कि यहां सिपाही पर थानेदार के कारखास ने साथियों के साथ मिलकर धारदार हथियारों से हमला कर दिया। हमले में 2 सिपाही और कुछ जिम संचालक के साथी शामिल थे। प्रकरण में तहरीर दी गई, लेकिन थानेदार ने मुकदमा तक दर्ज नहीं किया। वहीं SP सिटी ने दोनों सिपाहियों को लाइन हाजिर कर दिया है।

योगीपुरम चौकी में शनिवार रात पुलिसकर्मियों के बीच भिड़ंत हो गई। चौकी पर तैनात सिपाही दीपक पर थानेदार के कारखास ओजस्वी मलिक, सिपाही अमित और कुछ बाहरी लोगों ने हमला कर दिया। धारदार हथियार से दीपक के सिर पर वार किया गया और लहूलुहान कर दिया। रात में हुए इस बवाल के दौरान दीपक के कुछ सहकर्मी सिपाही चौकी पर पहुंचे और वीडियो बना ली। दीपक का आरोप है कि ओजस्वी चौकी पर कुछ लोगों को अवैध हिरासत में रखता है। साथ ही उसके कमरे में अवैध गतिविधियां भी करता है। विरोध करने पर वारदात की गई। हमले के समय की कुछ वीडियो भी सामने आई हैं, जिसमें आरोपी हमलावर दिखाई दे रहे हैं। हमले में एक जिम संचालक और उसके साथी भी शामिल थे। घायल दीपक को अस्पताल भर्ती कराया गया। हमले के संबंध में दीपक की ओर से चौकी प्रभारी योगीपुरम अशोक कुमार को तहरीर दी गई, लेकिन अभी तक मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है। SP क्राइम अनित कुमार ने बताया, चौकी के अंदर 2 पुलिसकर्मियों के बीच व्यक्तिगत कारणों को लेकर मारपीट हुई थी। दोनों को लाइन हाजिर किया गया है।