हरियाणा : हिसार के हांसी में बुधवार तड़के घर में घुसकर एक युवक की हत्या कर दी गई। मृतक का नाम विकास था और वह दो बच्चों का पिता था। युवक के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। वह कुछ दिन पहले ही पेरोल पर आया था। दो गुटों में पुरानी रंजिश के चलते ही यह हत्या की गई। मृतक विकास के पिता जयवीर पहलवान की भी कुछ साल पहले हत्या कर दी गई थी।

घटना का CCTV वीडियो वायरल हुआ है। इसमें 7 गुंडे एक युवक को दौड़ा कर लाते हैं और फिर बीच सड़क पर गिराकर पिटाई शुरू कर देते हैं। हाथ-पैर समेत हर जगह पर बेरहमी से वार करते हैं। पिता को पीटता देख 2 बच्चे भी वारदातस्थल पर पहुंच जाते हैं। पत्नी भी बचाने दौड़ती है। हत्यारों पर पत्थर भी फेंकती हैं। पति की जान की गुहार भी लगाती है मगर बेरहमों का दिल नहीं पसीजता है। मौत के घाट उतारने के बाद आरोपी भाग जाते हैं। इससे पहले पत्नी हाथ जोड़कर जान बख्शने की गुहार लगाती है। जमीन पर पड़े पिता को मासूम बेटी उठाने जाती है मगर उसे क्या पता कि अब पापा इस दुनिया में नहीं हैं। मृतक की पत्नी नैना देवी ने बताया कि हमलावरों से पति को बचाने के लिए बच्चों ने भी कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली। विकास (26) अपने घर के कमरे में परिवार के साथ सो रहा था। रात में करीब 2 बजे 6 से 7 हमलावर घर में घुसे। वह अपने साथ 8 फुट लंबी फोल्डिंग वाली सीढ़ी लेकर आए थे। मकान की दीवारों पर कांच लगा है। सीढ़ी से घर की चारदीवारी के अंदर उतरे। हमलावरों ने घर के कमरों को देखा और विकास को ढूंढने लगे। कमरे के बंद दरवाजे को हमलावरों ने कुल्हाडी से तोड़ दिया। इस बीच विकास और उसका परिवार जाग गया। हमलावरों ने अंदर दाखिल होकर विकास पर हमला कर दिया।

विकास को बचाने पत्नी और बच्चों दौड़े। हमलावरों को पकड़ने की कोशिश की। लेकिन हमलावरों की संख्या ज्यादा होने के कारण वे सब पर भारी पड़े। विकास अपनी जान बचाने के लिए घर से बाहर दौड़ा। जैसे ही वह बाहर आया तो पीछे से एक हमलावर ने उसे गिरा दिया। फिर बीच सड़क पर पार्क के पास काट दिया। विकास के शरीर और गर्दन पर तेजधार हथियार के कई निशान हैं। घटना के बाद लोग उसे अस्पताल लेकर पहुंचे लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस की फोरेंसिक टीम ने भी घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए। SHO नरेंद्र पाल ने कहा कि मृतक के परिजनों के बयान दर्ज किए गए हैँ। आरोपियों की शिनाख्त के प्रयास जारी हैं।