मथुरा जिले में वृन्दावन निवासी 60 वर्षीय एक व्यक्ति के खिलाफ पड़ोस में रहने वाली आठ साल की एक बच्ची के साथ छेड़छाड़ और उसके गुप्‍तांग में मोमबत्ती डालने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।

अपने खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के बारे में पता चलने पर आरोपी ने कथित रूप से जहर खा लिया जिससे उसकी हालत बिगड़ गई। पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया है।

मासूम के प्राइवेट पार्ट में डाली मोमबत्ती

पुलिस सूत्रों ने बताया कि बांकेबिहारी पुलिस चौकी क्षेत्र के एक मुहल्ले का निवासी 60 वर्षीय प्यारेलाल पड़ोस में रहने वाली आठ साल की एक बच्ची को बहला-फुसला कर अपने घर ले गया था। सूत्रों के अनुसार उसने पहले तो बच्‍ची से छेड़छाड़ की और फिर उसके गुप्‍तांग में मोमबत्ती डाल दी जिससे आहत बच्ची चीखती-चिल्लाती हुई अपने घर भाग गई और परिजनों को बात बतायी। सूत्रों के मुताबिक इस पर परिजन ने प्‍यारेलाल के खिलाफ भारतीय दण्‍ड विधान और पॉक्‍सो एक्‍ट की सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया।

मुकदमा दर्ज होने पर खाया जहर

उन्‍होंने बताया कि अपने खिलाफ पुलिस में शिकायत होने के बारे में पता लगने पर प्यारेलाल ने जहर लिया, जिससे उसकी हालत बिगड़ गई। सूत्रों का कहना है कि पुलिस उसे गिरफ्तार करने पहुंची, तो उसका हाल देख उसे जिला संयुक्त अस्पताल ले गई जहां अब उसकी हालत खतरे से बाहर बतायी जाती है। पुलिस ने बच्ची का चिकित्सकीय मुआयना कराया है। सूत्रों ने बताया कि मामला दो अलग-अलग समुदायों का होने के कारण पुलिस के आला अधिकारी भी हालात पर नजर बनाए हुए हैं तथा स्थानीय पुलिस को सतर्कता बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं।