आगरा : आगरा के सबसे बड़े मीट कारोबारी HMA ग्रुप के ठिकानों पर पड़े आयकर विभाग का छापा पड़ा है करीब 90 घंटे के बाद समाप्त हो गई । इस रेड में कई चौकाने वाले खुलासे सामने हुए है इतना ही नहीं आयकर विभाग ने HMA ग्रुप की 100 करोड़ की अघोषित आय भी सरेंडर करी है

आप को बता दें कि HMA ग्रुप के द्वारा मीट का बड़ा कारोबार देश और विदेश के किया जाता है. और शनिवार की सुबह करीब 9 बजे इनकम टैक्स की टीम ने आगरा सहित अन्य शहरों में ग्रुप के ठिकानों पर छापा मारा था और आगरा में HMA के करीब 18 ठिकानों पर आयकर विभाग के अधिकारी छापे की कार्रवाई को अंजाम दे रहे थे और आगरा में एचएमए ग्रुप के कार्यालय, कुबेरपुर स्थित स्लाटर हाउस, विभव नगर स्थित पूर्व विधायक जुल्फिकार अहमद भुट्टो के आवास, संजय प्लेस स्थित कार्यालय सहित 12 जगहों पर टीम ने छापामार कार्रवाई को अंजाम दिया था. मंगलवार की रात को यह रेड समाप्त हुई, जिसके बाद आयकर विभाग के अधिकारी तमाम दस्तावेजों के साथ हुए रवाना ।

आयकर विभाग के 150 अधिकारियों और कर्मचारियों की 5 नवंबर को शुरू हुई यह रेड आठ नवंबर की रात पूरी हुई. एचएमए ग्रुप द्वारा 100 करोड़ की अघोषित आय का सरेंडर किया गया है और इस पर आयकर विभाग की टीम टैक्स वसूलेगी। सूत्रों के मुताबिक आगरा में आयकर विभाग की सर्च में कुछ दैनिक वेतनभोगी यानी जिन्हें हर रोज काम करने पर पैसे दिए है और आर्थिक रुप से कमजोर हैं उनके एकाउंट से करोड़ों का लेनदेन किए जाने का मामला सामने आया है ।

कई सबूत साथ ले गई IT की टीम

आप को बता दें कि ताजनगरी के HMA के ठिकानों पर आयकर विभाग के अधिकारी इस करवाई को अंजाम दे रहे थे और मंगलवार की रात यह रेड पूरी हुई तो आयकर विभाग के अधिकारी HMA ग्रुप के मालिकों की प्रॉपर्टीज के कागजात समेत कई सबूत अपने साथ गए. हालांकि इस पूरे मामले की जांच के बाद HMA ग्रुप पर आयकर विभाग का शिकंजा और ज्यादा कस सकता है ।

देश में तीसरे नंबर पर आता है HMA ग्रुप

HMA ग्रुप के द्वारा मीट का बड़ा कारोबार किया जाता है और देश के साथ ही विदेशो में भी HMA ग्रुप की मीट की सप्लाई है. इस ग्रुप के मालिक बहुजन समाज पार्टी से पूर्व विधायक हाजी जुल्फीकार अहमद भुट्टो और उनके भाई भी है ।