प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने शिक्षक दिवस  के मौके पर सोमवार को शिक्षकों को बधाई दी. इस दौरान पूर्व राष्ट्रपति एस राधाकृष्णन की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की.

5 सितंबर 1888 को तमिलनाडु में जन्मे डॉ राधाकृष्णन को भारतीय संस्कृति के संवाहक प्रख्यात शिक्षाविद् महान दार्शनिक के तौर पर जाना जाता हैै. उनके सम्मान में इस दिन को शिक्षक दिवस के रूप मे मनाया जाता है. PM मोदी ने ट्वीट किया कि शिक्षक दिवस पर बधाई खासतौर से बच्चों में शिक्षा के प्रति रुझान पैदा करने वाले मेहनती शिक्षकों को. मैं हमारे पूर्व राष्ट्रपति डॉ राधाकृष्णन की जयंती पर उन्हें श्रद्धाजलि अर्पित करता हूं.

PM नरेंद्र मोदी शिक्षकों की सराहना करने के लिए उनसे मिलेंगे. वे आज राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार विजेताओं से बातचीत करेंगे. यह मुलाकात प्रधानमंत्री के सरकारी आवास यानि सात लोक कल्याण मार्ग पर होगी. प्रधानमंत्री कार्यालय पीएमओ का कहना है कि शिक्षकों को राष्ट्रीय पुरस्कार देने का लक्ष्य देश में बेहतरीन शिक्षा को बढ़ावा देना है. इसके साथ ऐसे शिक्षकों को प्रोत्साहित करना है जो अपनी कड़ी मेहनत के बल पर स्कूली शिक्षा में सुधार ला रहे हैं. इसके साथ छात्रों के जीवन को बेहतर बनाने का प्रयास कर रहे हैं.

राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार प्राथमिक माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत उत्कृष्ट शिक्षकों को प्रदान किए जाते हैं. इस वर्ष इन पुरस्कारों के लिए देशभर से 45 शिक्षकों का चयन तीन चरणों की एक कठोर एवं पारदर्शी ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से किया गया है. 5 सितंबर को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू इन शिक्षकों को राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान करेंगी.