अफगानिस्तान के हेरांत प्रांत की एक मस्जिद में शुक्रवार को विस्फोट हुआ. इस विस्फोट में मौलाना मुजीब उर रहमान अंसारी के भी मारे जाने की पुष्टि की गई है. इस हमले में 20 लोगों की मौत हुई है और लगभग 200 घायल हुए हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, यह विस्फोट हेरांत प्रांत के गुजरगाह मस्जिद में हुआ. यह विस्फोट जुमे की नमाज के बाद हुआ. तालिबान के प्रवक्ता ने आधिकारिक तौर पर हेरात में हुए इस दोहरे बम विस्फोट में मौलवी मुजीब उर रहमान अंसारी की मौत की पुष्टि की है. तालिबान प्रवक्ता ने कहा, बताते हुए खेद हो रहा है कि देश के सबसे ताकतवर और साहसिक धार्मिक गुरु मौलाना मुजीब उर रहमान अंसारी शुक्रवार को हेरात में हुए बर्बर हमले में मारे गए.