अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में शुक्रवार को कार बम हमले में कम से कम आठ लोगों की मौत हो गई और 18 घायल हो गए. पश्चिमी काबुल के शिया बहुल इलाके में हुए एक विस्फोट में कम से कम आठ लोग मारे गए हैं. इस बात की जानकारी तालिबान अधिकारियों ने दी है. पुलिस प्रवक्ता खालिद जादरान ने एक बयान देते हुए कहा कि शुक्रवार को एक गाड़ी के अंदर रखे विस्फोटक उपकरणों में विस्फोट होने से 18 अन्य लोग घायल हो गए. जादरान ने कहा कि कुछ घायलों की हालत गंभीर है.

यह हमला तब हुआ, जब देश में एक धार्मिक अल्पसंख्यक शिया मुसलमान, आशूरा की तैयारी कर रहे थे. जो पैगंबर मुहम्मद के पोते इमाम हुसैन की शहादत की याद दिलाता है. इस्लामिक स्टेट (आईएस) आतंकवादी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी ली है. संगठन ने अपने आधिकारिक टेलीग्राम चैनल पर एक बयान में कहा कि उन्होंने शिया मुसलमानों की एक सभा को निशाना बनाया था.

बता दें कि तालिबान ने पिछले साल 15 अगस्त को काबुल के राष्ट्रपति पैलेस में अपना झंडा फहरा दिया था. तालिबान काफी अरसे से अफगानिस्तानी और अमेरिकी सेना से जंग लड़ रहा था. अफगानिस्तान में जब से तालिबान की सरकार बनी है तब से यहां हालात खराब बताए जाते हैं.