मेटा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मार्क जुकरबर्ग ने मंगलवार को अपने सैकड़ों अधिकारियों से बात की और बुधवार सुबह कर्मचारियों की छंटनी की पुष्टि की।

मंगलवार की बैठक में जुकरबर्ग निराश दिखाई दिए और कहा कि वह कंपनी के गलत कदमों के लिए जिम्मेदार हैं। द वॉल स्ट्रीट जर्नल (WSJ) की रिपोर्ट के अनुसार छंटनी की पुष्टि की गई है।

वॉल स्ट्रीट जर्नल ने मामले के बारे में जानकार लोगों का हवाला देते हुए बताया कि कंपनी बुधवार से हजारों कर्मचारियों की कटौती कर सकती है। अखबार ने बताया कि जिन कर्मचारियों की छंटनी की जानी है, उन्हें कम से कम चार महीने का वेतन मिलेगा। रिपोर्ट के अनुसार, जुकरबर्ग ने छंटनी का सामना करने वालों में भर्ती और व्यावसायिक टीमों का उल्लेख किया।

चार महीने का मिलेगा वेतन

मेटा के एचआर प्रमुख लोरी गोलर ने बताया कि जो कर्मचारी अपनी नौकरी खो देंगे, उन्हें कम से कम चार महीने का वेतन मिलेगा। मंगलवार को हुई बैठक में जुकरबर्ग ने व्यापक कटौती के बारे में बात की। बैठक के बाद, संगठन के कई वर्गों में कंपनी के निदेशकों ने अपने अधीनस्थों को कटौती और पुनर्गठन के बारे में सूचित करना शुरू कर दिया।

WSJ की रिपोर्ट के अनुसार, मेटा के अंदर कर्मचारी आने वाले दिनों के लिए आने वाली छंटनी के बारे में विशिष्ट जानकारी मांग रहे हैं और मौजूदा सहयोगियों के साथ बाहरी समूह बनाकर और लाभों का उपयोग करने के तरीके पर चर्चा कर रहे हैं।

मेटा के शेयर में 70 फीसदी से ज्यादा गिरावट

इस बीच इस साल मेटा के शेयर में 70 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है। कंपनी ने बिगड़ते आर्थिक रुझानों को उजागर किया है, लेकिन निवेशक भी इसके खर्च और कंपनी के मुख्य सोशल-मीडिया व्यवसाय के लिए खतरों से घबरा गए हैं।

कोरोना महामारी के दौरान लोगों को काम पर रखने के बाद टेक उद्योग सबसे बड़ी छंटनी का सामना कर रहा है। ट्विटर इंक नए मालिक एलोन मस्क भी हजारों कर्मचारियों की छंटनी कर रहे हैं।