Corona Cases: देश में नहीं थम रही कोरोना की रफ्तार, 24 घंटे के दौरान 168063 नए केस और 277 की मौत

Corona Cases: देश में नहीं थम रही कोरोना की रफ्तार, 24 घंटे के दौरान 168063 नए केस और 277 की मौत

पिछले 24 घंटे के दौरान 1 लाख 68 हजार 63 नए केस सामने आए हैं जबकि 277 लोगों की मौत हो गई.

देश में कोरोना की बेकाबू रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है.

हालांकि, कल के मुकाबले आज कोरोना के नए केस में कमी आई है. पिछले 24 घंटे के दौरान 1 लाख 68 हजार 63 नए केस सामने आए हैं जबकि 277 लोगों की मौत हो गई. कल की तुलना में आज कोरोना के नए केस में 6.4 फीसदी की कमी आई है. सोमवार को 1 लाख 79 हजार नए केस सामने आए थे.

हालांकि, इस दौरान 69,959 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं. इस नए केस का आने के बाद देश में कोरोना संक्रमितों के कुल मामले बढ़कर 3 करोड़ 58 लाख 75 हजार 790 हो गए हैं. जबकि, अब तक इस महामारी के चलते 4 लाख 84 हजार 213 लोगों की जान चली गई.

कोविड-19 से अब तक देश में 3 करोड़ 45 लाख 70 हजार 131 लोग ठीक हो चुके हैं. कोविड-19 से अब तक देश में 3 करोड़ 45 लाख 70 हजार 131 लोग ठीक हो चुके हैं. जबकि, ओमिक्रोन के बढ़े खतरे के बाद सक्रिय मरीजों की संख्या अब बढ़कर 8 लाख 21 हजार 446 हो गई है. भारत में सोमवार को कोरोना वायरस के लिए 15,79,928 सैंपल टेस्ट किए गए. कल तक कुल 69 करोड़ 31 लाख 55 हजार 280 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं.

पहले दिन 9 लाख से ज्यादा को प्रीकॉशन डोज

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में तेज वृद्धि के बीच सोमवार को कोविड-19 रोधी टीके की 'एहतियाती' खुराक देने की शुरुआत के पहले दिन अन्य बीमारियों से पीड़ित 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों और स्वास्थ्यकर्मियों के साथ ही अग्रिम मोर्चे के नौ लाख से अधिक लोगों को यह खुराक दी गई. स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी.

मंत्रालय के मुताबिक, सोमवार शाम सात बजे तक 82,76,158 खुराक लगायी गई, जिसके साथ ही देश में अब तक कोविड-रोधी टीके की कुल 152.78 करोड़ खुराक दी जा चुकी है. मंत्रालय ने कहा कि सोमवार को दी गई खुराकों में से 15-18 आयुवर्ग के लाभार्थियों को दी गई 21,49,200 खुराक शामिल हैं. इसने कहा कि सोमवार को 60 वर्ष से अधिक आयु के पात्र लाभार्थियों को 2,54,868, स्वास्थ्यकर्मियों को 4,91,013 जबकि अग्रिम मोर्चे के कर्मियों को 1,90,383 एहतियाती खुराक दी गईं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि अनुमानित स्वास्थ्य सेवा से 1.05 करोड़ कर्मियों और अग्रिम मोर्चे के 1.9 करोड़ कर्मियों जबकि अन्य बीमारियों से पीड़ित 60 से अधिक आयु के 2.75 करोड़ व्यक्ति तीसरी खुराक के लिए लक्षित आबादी में शामिल हैं. तीसरी खुराक दिये जाने की घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 24 दिसंबर को की गई थी और इसे देने की शुरुआत उसके 17 दिन बाद हुई है.

Share this story