पाकिस्तान के पीर पंजाल रेंजहिल स्टेशन पर बर्फ का लुत्फ उठाने पहुंचे पर्यटकों के लिए कार बनी 'कब्र', ठंड से जमकर हुई 16 लोगों की मौत

पाकिस्तान के पीर पंजाल रेंजहिल स्टेशन पर बर्फ का लुत्फ उठाने पहुंचे पर्यटकों के लिए कार बनी 'कब्र', ठंड से जमकर हुई 16 लोगों की मौत

पाकिस्तान के पीर पंजाल रेंज (Pir Panjal Range) में स्थित मुर्री (Murree) में शनिवार को बर्फ में फंसी कारों में कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई. इसे देखते हुए मुर्री टाउन (Murree Town) को आपदा प्रभावित घोषित कर दिया गया है.

मुर्री टाउन पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के रावलपिंडी जिले के भीतर स्थित एक हिल स्टेशन है. यहां पर बर्फबारी का लुत्फ उठाने के लिए पर्यटकों की भीड़ पहुंच रही है. पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख राशिद अहमद (Sheikh Rashid Ahmed) ने कहा कि पर्यटक इतनी बड़ी संख्या में पहुंच कि संकट खड़ा हो गया.

शेख राशिद अहमद ने कहा कि रावलपिंडी और इस्लामाबाद प्रशासन, पुलिस के साथ, फंसे हुए लोगों को बचाने के लिए काम कर रहे हैं. वहीं, पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) के पांच प्लाटून के साथ-साथ रेंजर्स और फ्रंटियर कोर को आपातकालीन आधार पर बुलाया गया है. मंत्री ने कहा कि लगभग 1,000 कारें हिल स्टेशन पर फंसी हुई थीं. उन्होंने कहा कि 16 से 19 लोगों की मौत हुई हैं. अहमद ने कहा कि मुर्री के निवासियों ने फंसे हुए पर्यटकों को भोजन और कंबल उपलब्ध कराया. उन्होंने कहा कि प्रशासन ने हिल स्टेशन के सभी मार्गों को बंद कर दिया है और अब केवल भोजन और कंबल लेने की योजना बनाने वाले वाहनों को ही जाने की अनुमति दे रहा है.

पंजाब के मुख्यमंत्री ने क्या कहा?

इस बीच, पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार ने मुर्री में आपदा आने का ऐलान कर दिया और अस्पतालों, पुलिस स्टेशनों, प्रशासन कार्यालयों और रेस्क्यू 1122 सेवाओं में आपातकाल लागू कर दिया है. उन्होंने प्रांतीय मुख्य सचिव, पुलिस महानिरीक्षक, राहत आयुक्त, रेस्क्यू 1122 के महानिदेशक और प्रांतीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (पीडीएमए) के महानिदेशक को सहायता प्रयासों में मदद के लिए अपना हेलीकॉप्टर उपलब्ध कराने के अलावा बचाव कार्य करने का भी निर्देश दिया. बुजदार ने कहा कि पर्यटकों को बचाने की प्रक्रिया तेज कर दी गई है और भोजन और जरूरी सामान भी मुहैया कराया जा रहा है.

एक रात पहले खाली कराई गईं 23 हजार कारें

 मुख्यमंत्री ने कहा कि फंसे हुए पर्यटकों को बचाना सर्वोच्च प्राथमिकता है. उन्होंने कहा कि लोगों के लिए विश्राम गृह और अन्य स्थलों को खोल दिया गया है. उन्होंने कहा कि पर्यटकों को बचाने की प्रक्रिया तेज कर दी गई है, जबकि भोजन और जरूरी सामान भी मुहैया कराया जा रहा है. उन्होंने बर्फ में फंसे लोगों की मौत पर भी दुख व्यक्त करते हुए कहा कि वह इस दुख में पीड़ितों के परिवारों के साथ हैं. उन्होंने कहा कि एक रात पहले इलाके से 23,000 से अधिक कारों को खाली करा लिया गया था और बचाव कार्य जारी किया गया.

Share this story