Punjab में Arvind kejriwal का शांति मार्च, बोले-सुरक्षा देने में नाकाम हुई सरकार

Punjab में Arvind kejriwal का शांति मार्च, बोले-सुरक्षा देने में नाकाम हुई सरकार

पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी अपनी पूरी ताकत झोंक रही है। केजरीवाल का पंजाब आना-जाना बढ़ गया है। पटियाला में शांति मार्च के बाद अरविंद केजरीवाल ने कहा कि चुनाव के पहले पंजाब के दुश्मनों ने गंदी हरकतें शुरू कर दी हैं। अपने संबोधन में उन्‍होंने कहा कि पंजाब में विधानसभा चुनाव आने वाले हैं चुनाव से पहले पंजाब के दुश्मनों ने गंदी हरकत शुरू कर दी है. जिसने दरबार साहिब में बेअदबी की कोशिश की उसका मास्टरमाइंड अब तक नही पकड़ा गया, इसी तरह लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट का मास्टरमाइंड भी नहीं पकड़ा गया। 

केजरीवाल ने कहा, कुछ दिन बाद लुधियाना में बम ब्लास्ट हो गया। किसने करवाया, उसका मास्टरमाइंड नहीं पकड़ा गया। 2017 में भी मौड़ मंडी में बम ब्लास्ट किया गया। 2015 में बेअदबी की गई। अगर 2015 के मास्टरमाइंड को बेअदबी की सजा दी जाती तो किसी की दोबारा हिम्मत नहीं होती। पंजाब के अंदर माहौल खराब करने की कोशिश की जा रही है।

केजरीवाल पहली बार पंजाब में सांसद भगवंत मान को तरजीह देते दिखे। पटियाला में शांति मार्च में भगवंत मान उनके साथ रहे। दिल्ली से आए राघव चड्‌ढा और पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता हरपाल चीमा पीछे रहे। जब केजरीवाल ने मार्च के अंत में लोगों को संबोधित किया तो उनके साथ सिर्फ भगवंत मान ही नजर आ रहे थे। इससे ये कयास लगाया जा रहा है कि भगवंत मान पंजाब में आम आदमी पार्टी का चेहरे हो सकते हैं।

Share this story