Punjab Election 2022: जनवरी में PM मोदी करेंगे बड़ी रैली को संबोधित, 70 सीटों पर चुनाव लड़ेगी BJP

Punjab Election 2022: जनवरी में PM मोदी करेंगे बड़ी रैली को संबोधित, 70 सीटों पर चुनाव लड़ेगी BJP
चंडीगढ़: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले महीने की शुरुआत में एक रैली को संबोधित करते हुए पंजाब में आगामी विधानसभा चुनावों के लिए चुनावी बिगुल बजाएंगे। सूत्रों ने कहा कि भाजपा, जिसने पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह की पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस के साथ चुनावी समझौता किया है, उसे चुनाव लड़ने के लिए सीटों का बड़ा हिस्सा मिलेगा।

पंजाब में अब तक शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के साथ चुनाव लड़ चुकी बीजेपी पार्टी 117 विधानसभा सीटों में से 70 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। अमरिंदर की पार्टी को 30-35 सीटें दी जा सकती हैं जबकि शेष सुखदेव सिंह ढींडसा की शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) को दी जाएंगी।

गौरतलब है कि बीजेपी ने अब तक पंजाब में सबसे ज्यादा 23 सीटों पर चुनाव लड़ा है। यह पहला चुनाव होगा, जब भगवा दल शिअद के बिना चुनावी दौड़ में शामिल हुआ। पार्टी की नजर उन सीटों पर है, जहां हिंदू और दलित मतदाताओं का बहुमत है।

पार्टी ने एक नया नारा भी गढ़ा है - 'नवा पंजाब बीजेपी दे नाल' (नया पंजाब बीजेपी के साथ)। भाजपा को राज्य में अपने भाग्य में बदलाव की उम्मीद है, क्योंकि मोदी सरकार ने पिछले महीने तीन कृषि कानूनों को निरस्त कर दिया था, जो एक साल से अधिक समय से किसानों के विरोध के केंद्र में थे। पार्टी का मानना है कि पंजाब के लोग बदलाव चाहते हैं और यह "कप्तान ऑन द शिप" के साथ एक विकल्प के रूप में उभर सकता है।

हालांकि सीटों के बंटवारे की औपचारिक घोषणा होनी बाकी है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि सीटों के बंटवारे को लेकर बीजेपी और पंजाब लोक कांग्रेस में आम सहमति बन गई है।

कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब की राजनीति के अनुभवी खिलाड़ी हैं। कैप्टन दो बार सत्ता में रहने के बाद मालवा, माझा और दोआबा तीनों क्षेत्रों की जमीनी स्तर की राजनीति को समझते हैं। वह कांग्रेस की खामियों को भी जानते हैं और पिछले चुनावों में पार्टी कहां कमजोर थी। कैप्टन को अकाली दल की भी कमजोरी का अंदाजा है।

पिछले हफ्ते अमरिंदर सिंह ने केंद्रीय मंत्री और पंजाब बीजेपी प्रभारी गजेंद्र सिंह शेखावत से दिल्ली में मुलाकात की थी। माना जा रहा है कि दोनों नेताओं ने सीट बंटवारे के फॉर्मूले के मुद्दे पर चर्चा की।

पंजाब और चार अन्य राज्यों (उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर) में अगले साल की शुरुआत में चुनाव होने हैं। 2017 के पंजाब विधानसभा चुनावों में, कांग्रेस ने 77 सीटों पर जीत हासिल करते हुए पूर्ण बहुमत हासिल किया। शिअद-भाजपा गठबंधन ने 18 सीटें जीती थीं, जबकि आम आदमी पार्टी ने 20 सीटें हासिल की थीं, इस प्रकार वह विधानसभा में प्रमुख विपक्षी दल बन गया।

Share this story