Bihar में कोरोना मरीजों की संख्या में उछाल, 21 जनवरी तक लगा Night Curfew

Bihar में कोरोना मरीजों की संख्या में उछाल, 21 जनवरी तक लगा Night Curfew

नई दिल्ली: देश में कोरोना और कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। बिहार भी इससे अछूता नहीं है। बिहार में भी लगातार कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। यहां  पिछले 24 घंटे में कोरोना के 893 नए केस सामने आए हैं। इसमें पटना में सबसे ज्यादा 565 मरीज मिले हैं। इसके साथ ही राज्य में कोरोना सक्रिय मरीजों की संख्या बढकर 2222 हो गई है। 

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक राज्य में पिछले 24 घंटे में 893 कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई है। नए संक्रमितों में सबसे अधिक पटना में 565 कोरोना मरीजों की पहचान की गई। इसके अलावे गया में 99 नए संक्रमित पाए गए हैं, जबकि मुजफ्फरपुर जिले में 47, मुंगेर में 14, दरभंगा में 12, जमुई में 11, समस्तीपुर और वैशाली में 10-10 नए संक्रमित पाए गए हैं।

राज्य के अन्य जिलों में अररिया, बांका, बक्सर और अरवल में एक-एक, बेगूसराय, मधेपुरा, सुपौल, पश्चिम चंपारण व भागलपुर में छह-छह, लखीसराय, नालंदा व भोजपुर में 7-7, पूर्वी चंपारण, रोहतास, शिवहर और नवादा जिले में 4-4, जहानाबाद में आठ, किशनगंज, औरंगाबाद, सीवान और कैमूर में 5-5, कटिहार, सारण, सीतामढ़ी और सहरसा में 3-3, पूर्णिया, खगड़िया और मधुबनी में दो-दो नए संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा अन्य राज्य के आठ लोगों के सैंपल भी पॉजिटिव पाए गए।

विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, बिहार में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर अब 2,222 हो गई है। बिहार में पिछले 24 घंटों के दौरान एक लाख 44 हजार 675 सैंपलों की जांच की गई। पिछले 24 घंटे के दौरान 56 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। राज्य में कोरोना का रिकवरी रेट घटकर अब 98.03 प्रतिशत हो गई है।

इस बीच, कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर आपदा प्रबंधन समूह की मंगलवार को हुई बैठक में राज्य में नाइट कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया गया। इसके अलावा आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानों को खोलने का समय रात आठ बजे तक कर दिया गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में बिहार में रात दस बजे से सुबह पांच बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया गया है।

इसके अलावा राज्य में प्री स्कूल से आठवीं कक्षा (वर्ग) तक के स्कूलों को बंद रखने का निर्णय लिया गया है। यहां ऑनलाइन शिक्षा जारी रहेगी। इसके अतिरिक्त नौवीं तथा उच्चतर शिक्षा के विद्यालय तथा अन्य संस्थान 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ खुलेंगे। आदेश में यह भी कहा गया है कि शिक्षण संस्थान ऑनलाइन शिक्षा के विषय में स्वयं निर्णय ले सकेंगे। इसके अलावा भी कई पाबंदियां लागू कर दी गई हैं। यह आदेश छह जनवरी से 21 जनवरी तक लागू होगा।

Share this story