रोहिणी अदालत में गैंगस्टर गोगी की हत्या करने वाले हमलावरों को पनाह देने वाले दो गिरफ्तार
 

 रोहिणी अदालत में गैंगस्टर गोगी की हत्या करने वाले हमलावरों को पनाह देने वाले दो गिरफ्तार

दिल्लीः रोहिणी अदालत के कोर्ट रूम के अंदर कुख्यात बदमाश जितेंद्र उर्फ गोगी की हत्या करने के मामले में दिल्ली पुलिस ने टिल्लू ताजपुरिया गैंग के दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है. दोनों के नाम उमंग और विनय मोटा है. पुलिस का दावा है कि उमंग हैदर पुर गांव का रहने वाला है और उसी ने इस हत्याकांड को अंजाम देने वाले बदमाशों राहुल त्यागी और जगदीप उर्फ जग्गा को अपने घर में पनाह देने के साथ साथ लॉजिस्टिक सपोर्ट भी उपलब्ध करवाई थी.

पुलिस का कहना है कि दोनों हमलावर 20 सितंबर को ही हैदरपुर स्थित उमंग के घर आ गए थे. पुलिस का दावा है कि उमंग और विनय शुक्रवार की सुबह 10:20 पर दोनों को i10 कार में सवार होकर रोहिणी अदालत के बाहर पहुंचे थे. कार अदालत के बाहर ही पार्क की गई थी. उमंग और मोटा ने राहुल और जग्गा को कोर्ट परिसर के अंदर छोड़ा. इतना ही नहीं इन दोनों ने राहुल और जग्गा को कोर्ट रूम नंबर 207 भी दिखाया, जहां पर गोगी की पेशी होनी थी. राहुल और जग्गा वकील की ड्रेस में थे. उमंग ने ही इन दोनों को पिस्तौल और रिवाल्वर उपलब्ध करवाई थी.पुलिस सूत्रों का कहना है कि उमंग और विनय मोटा को स्पेशल सेल की नई दिल्ली रेंज ने गिरफ्तार किया है. उमंग और विनय मोटा टिल्लू तजपुरिया गैंग के सदस्य हैं. उमंग और विनय ने पुलिस के सामने ये खुलासा भी किया है. 22 सितम्बर को इन चारों लोगों ने हैदरपुर में उमंग के घर पर पार्टी भी की थी. विनय मोटा ने ही राहुल और जग्गा को वकीलों की ड्रेस काला ट्राउजर, सफेद शर्ट, काला कोट और काले जूते मार्किट से ख़रीदवाये थे.

पुलिस ने ये भी बताया कि कोर्ट रूम में पुलिस की गोली से मारे गए राहुल और जग्गा की जब तलाशी ली गयी थी तो राहुल के पास से एक मोबाइल फोन मिला था. गोली लगने से मोबाइल की बैटरी फट चुकी थी और उसमें सिम भी नहीं था. इसके अलावा 210 रुपये भी बरामद हुए थे.

Share this story