कोरोना वैक्सीन 'कोवोवैक्स' को 12-17 साल के बच्चों पर इस्तेमाल के लिए राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समिति की तरफ से मंजूरी मिल गई 

 कोरोना वैक्सीन 'कोवोवैक्स' को 12-17 साल के बच्चों पर इस्तेमाल के लिए राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समिति की तरफ से मंजूरी मिल गई 

कोरोनावायरस से लड़ाई में भारत को जल्द ही एक और वैक्सीन का तोहफा मिल सकता है। दरअसल, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा विकसित नई कोरोना वैक्सीन 'कोवोवैक्स' को 12-17 साल के बच्चों पर इस्तेमाल के लिए राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समिति की तरफ से मंजूरी मिल गई है।

अब NTAGI के प्रस्ताव को सरकार के सामने रखेगा, जिसके बाद भारत की दवा नियंत्रक महानिदेशक (डीसीजीआई) इसके आपात इस्तेमाल की जल्द मंजूरी दे सकता है।

किसी वैक्सीन पर निर्णय लेने के लिए टीकाकरण के लिए गठित NTAGI के पास त्रिस्तरीय प्रणाली है। यह कार्य समूह प्रथम स्तर का है। कार्य समूह द्वारा वैक्सीन के डेटा की सुरक्षा और असर देखने के बाद, दूसरे स्तर की स्थायी तकनीकी उप-समिति (STSC) समीक्षा और चर्चा करेगी। इसके बाद एसटीएससी अंतिम निर्णय लेने वाले तीसरे समूह को अपना निर्णय देगी।

Share this story