स्वास्थ्य सेवाओं को और गुणवत्तापूर्ण बनाने के लिए मोदी सरकार ने एक मोबाइल एप ‘फार्मा सही दाम’ लॉन्च किया है। इसके जरिये महंगी दवा या खराब गुणवत्ता वाली दवाओं की शिकायत कर सकेंगे।जिसके बाद तत्काल कार्रवाई भी की जाएगी।

सोमवार को राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) की स्थापना के 25 वर्ष पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने इस फोन एप को लॉन्च किया।इसके साथ ही एनपीपीए ने इंटीग्रेटेड फार्मास्युटिकल डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम (आईपीडीएमएस) का दूसरा वर्जन भी लॉन्च किया है। यह दवाओं के उत्पादन, उनकी गुणवत्ता, कीमत और मरीजों पर उनके असर के बारे में पूरी जानकारी रखेगा।

‘फार्मा सही दाम’ नामक इस मोबाइल एप के जरिये हिंदी और अंग्रेजी भाषा में शिकायत की जा सकती है, जिसके बाद तत्काल कार्रवाई भी की जाएगी। इतना ही नहीं, एप की मदद से न सिर्फ ब्रांडेड दवाओं की वास्तविक कीमत का पता लगाया जा सकता है, बल्कि इसकी जानकारी औरों को देने के लिए सोशल मीडिया पर भी साझा कर सकते हैं।