अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान(एम्स) का मुख्य ऑपरेशन थियेटर अचानक बंद, टालनी पड़ी 80 सर्जरी

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान(एम्स) का मुख्य ऑपरेशन थियेटर अचानक बंद, टालनी पड़ी 80 सर्जरी

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) का मुख्य ऑपरेशन थियेटर अचानक बंद होने से कई मरीजों की जान पर बन आई। एक महिला नर्सिंग कर्मचारी के ड्यूटी नहीं करने के कारण 80 सर्जरी टालनी पड़ी जबकि, एनेस्थीसिया दे दिए जाने की वजह से कई रोगी बेहोशी की हालत में घंटों पड़े रहे।

शुक्रवार की इस घटना पर प्रबंधन ने शनिवार को नर्सिंग कर्मचारी को नोटिस जारी किया। प्रबंधन ने कर्मचारी से 25 अप्रैल तक कारण बताने को कहा है कि आखिर उसके खिलाफ कार्रवाई क्यों न की जाए? दिल्ली पुलिस को भी शिकायत मिली है। एम्स के एक वरिष्ठ नर्सिंग अधिकारी ने बताया कि यह घटना काफी गंभीर और अभूतपूर्व है। कई मरीजों को एनेस्थीसिया दिए जाने के बाद आगे की प्रक्रिया शुरू हो गई थी।

ड्यूटी रोस्टर विवाद बनी वजह
बताया जा रहा है कि यह मामला ऑपरेशन थियेटर के लिए पिछले साल जारी ड्यूटी रोस्टर के विरोध से जुड़ा है। परिसर में चर्चा है कि यूनियन के कुछ नेताओं के बहकावे में आने से यह घटना हुई है। अगले यूनियन चुनाव में इस मुद्दे को भुनाने की भी चर्चा है।एम्स की रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन ने निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया से मुलाकात कर नर्सिंग यूनियन के अध्यक्ष हरीश कालरा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

Share this story