लखीमपुर खीरी हिंसा:आशीष के अब्बाजान को कब हटाएंगे PM मोदी: ओवैसी
 

 लखीमपुर खीरी हिंसा:आशीष के अब्बाजान को कब हटाएंगे PM मोदी: ओवैसी

नई दिल्ली: AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने लखीमपुर हिंसा को लेकर बीजेपी पर तंज किया है। ओवैसी ने बलरामपुर में एक जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे, इस दौरान उन्होंने कहा कि आशीष के अब्बाजान को पीएम मोदी कब हटाएंगे। ओवैसी ने कहा कि बीजेपी कमल की जगह थार सिंबल रख ले।

ओवैसी ने लखीमपुर की घटना पर बोलते हुए कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर पुलिस गृह राज्य मंत्री के बेटे को थाने में बुलाती है और 10 घंटे तक नाश्ता खिलाती है, ऐसा लग रहा था कि बबुआ थाने नहीं बल्कि अपने ससुराल गए हैं, जहां उनकी आवभगत की जा रही है।''

उन्होंने कहा, ''ऐसा होने पर भी सवाल यह पैदा होता है कि नरेंद्र मोदी अजय मिश्रा को अपनी कैबिनेट से क्यों नहीं निकाल देते, जब की अजय मिश्रा ने 2 दिन पहले अपनी तकरीर में कहा था कि सुधार जाओ नहीं तो दो मिनट में सुधार दिया जाएगा और 2 दिन बाद इस उनकी गाड़ी से 5 किसानों की को मार दिया जाता है।''

ओवैसी ने कहा, ''इसके बाद भी नरेंद्र मोदी उन्हें बाहर नहीं निकालते हैं, ऐसा इसलिए है कि अजय मिश्रा एक ऊंची जात से है। नरेंद्र मोदी सोचते हैं कि ऐसा करने पर उन्हें ऊंची जाति के वोट नहीं मिलेंगे, इसलिए हम उन्हें बचाएंगे। यदि उसका नाम आशीष की जगह अतीक होता तो 2 मिनट में उनके घर पर बुलडोजर चलवा दिया जाता।''

बलरामपुर के सादुल्लानगर में एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए ओवैसी ने कहा कि मुसलमान के वोट की कोई कीमत नहीं है, हमारे युवाओं की जिंदगियां जेलों में सड़ कर बर्बाद हो रही हैं। आज प्रदेश की जेलों में 27 प्रतिशत मुस्लिम युवा बंद है। उनके मामले अंडर ट्रायल है, इसक जिम्मेदार कौन है। लखीमपुर घटना में मारे गए किसान नक्षक्तर सिंह का बेटा सेना में है। वह कहते थे कि बेटा तुम देश की सेवा करो। मैं किसानी करके भूखों का पेट भरूंगा।''

Share this story