राजस्थान शिक्षा के क्षेत्र में मोदी सरकार की एक और पहल, 4 मेडिकल कॉलेजों की रखी नींव

राजस्थान शिक्षा के क्षेत्र में मोदी सरकार की एक और पहल, 4 मेडिकल कॉलेजों की रखी नींव

राजस्थान. शिक्षा क्षेत्र के लिए बीता एक साल काफ़ी अहम रहा है, चाहे बात नई शिक्षा नीति की हो या सरकार द्वारा लॉन्च किए गए विभिन्न परियोजनाओं की. कोरोना काल के आने से मेडिकल साइंस और मेडिकल शिक्षा की अहमियत देश को पता चली. इसी के तहत सरकार ने भी मेडिकल परियोजनाओं और मेडिकल शिक्षा की ओर विशेष ध्यान देते हुए कई कदम उठाए हैं. जिसके चलते, आज राजस्थान में प्रधानमंत्री मोदी ने 4 मेडिकल कॉलेजों की नींव रखी है.

कोरोना महामारी ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में बहुत कुछ सिखाया : मोदी

इस शिलान्यास के दौरान अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी ने दुनिया भर में स्वास्थ्य के क्षेत्र में बहुत कुछ सिखाया है. हर देश इस संकट से अपने-अपने तरीके से निपटने में लगा हुआ है. भारत ने इस दौरान अपनी ताकत, आत्मनिर्भरता बढ़ाने का संकल्प लिया है. हम देश के स्वास्थ्य क्षेत्र को बदलने के लिए एक नई राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति पर काम कर रहे हैं. स्वच्छ भारत अभियान से आयुष्मान भारत और अब आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन आदि इसी का हिस्सा बन गया है.

मेडिकल शिक्षा की क्वालिटी पर पीएम मोदी ने क्या कहा

पीएम मोदी ने आगे कहा कि, 'पहले मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया पर कैसे-कैसे आरोप लगते थे. इसका बहुत बड़ा प्रभाव मेडिकल शिक्षा की क्वालिटी पर पड़ा. हर सरकार इसमें बदलाव के बारे में सोचती थी, लेकिन कर नहीं पाई. मुझे भी इसमें सुधार करने में दिक्कत आई थी. इसे ठीक करने के अब नेशनल मेडिकल एजुकेशन कमिशन बना दिया गया.'

Share this story