Rajasthan: कांग्रेस की पाठशाला में बोले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, राज्य सरकार के विरूद्ध नहीं है सत्ता विरोधी लहर

Rajasthan: कांग्रेस की पाठशाला में बोले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, राज्य सरकार के विरूद्ध नहीं है सत्ता विरोधी लहर

राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 के लिए कमर कसते हुए प्रदेश कांग्रेस संगठन के रास्ते कार्यकर्ताओं की नब्ज टटोलने से लेकर ट्रेनिंग देने का काम कर रही है. इसी कड़ी में राजधानी के बाड़ा पदमपुरा में कार्यकर्ताओं के 3 दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया है.

शिविर के पहले दिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से लेकर राजस्थान कांग्रेस के आला नेताओं का यहां जमावड़ा रहा.

सीएम गहलोत ने शिविर का उद्घाटन किया तो राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने अध्यक्षता की. वहीं शिविर में ब्लॉक और जिला स्तर पर भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की विचारधारा को काउंटर करने के लिए कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के साथ ही पार्टी का संदेश पहुंचाने का आह्वान किया गया. बता दें कि कांग्रेस के इस शिविर के पहले दिन प्रदेशभर के 350 प्रशिक्षुओं का नामांकन भी किया गया.

आरएसएस कांग्रेस को कर रहा है बदनाम : गहलोत

प्रशिक्षण शिविर के पहले दिन बोलते हुए सीएम ने कहा कि आरएसएस, कांग्रेस और हमारे नेताओं को लगातार बदनाम करने का काम कर रहा है. वह बोले कि हमारी पार्टी ने बुरे दौर देखे हैं, फिर भी हम अपने कार्यकर्ताओं की ताकत के बल पर खड़े हो जाते है. हमारे नेता राहुल गांधी जनता से जुड़े मुद्दे उठाकर लगातार केंद्र की बीजेपी सरकार के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं.

वहीं राजस्थान को सत्ता और संगठन के समन्वय का सफल उदाहरण बताते हुए सीएम ने कहा कि किसी भी संगठन की रीढ़ कार्यकर्ता होते हैं और संगठन के कार्यकर्ताओं के काम की करोड़ों के विज्ञापन से भी तुलना नहीं की जा सकती है.

कोरोना महामारी से हुई मौत की ऑडिट करेगी सरकार : गहलोत

गहलोत ने आगे कहा कि प्रदेश में हमारी सरकार ने कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए सर्वश्रेष्ठ काम किया है. हमारे भीलवाड़ा मॉडल को देशभर में सराहा गया. उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार कोरोना महामारी से हुई मौत के असली आंकड़ें जुटाने के लिए भविष्य में ऑडिट करवाने जा रही है.

राजस्थान को गहलोत पर नाज है : डोटासरा

इसके अलावा प्रशिक्षण शिविर में उद्घाटन सत्र के दौरान राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि राजस्थान के मुख्यमंत्री एनएसयूआई और युवा कांग्रेस से निकलकर प्रदेश के सीएम की कुर्सी तक पहुंचे हैं ऐसे में उनसे बढ़कर संगठन की अहमियत कोई नहीं समझ सकता है. आज हर प्रदेशवासी को अपने मुख्यमंत्री पर नाज है.

बता दें कि राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के तीन दिवसीय आवासीय कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर के पहले दिन मंत्री डॉ. महेश जोशी ने धन्यवाद भाषण दिया और मंच संचालन मंत्री गोविन्द राम मेघवाल ने किया.

Share this story