तमिलनाडु: 'राइट ट्रैक' पर पार्टी सेट करने के लिए जल्द ही आ रही हैं वीके शशिकला, 

तमिलनाडु: 'राइट ट्रैक' पर पार्टी सेट करने के लिए जल्द ही आ रही हैं वीके शशिकला,

तमिलनाडु की राजनीतिक के आग को हवा देते हुए जयललिता की पूर्व सहयोगी वीके शशिकला एक बार फिर राजनीतिक वापसी करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. हाल ही में उन्होंने कहा कि वह अपनी पार्टी अन्नाद्रमुक की गिरावट को “सहन” नहीं कर सकतीं. एक सार्वजनिक बयान में, शशिकला ने कहा, "पार्टी को सही रास्ते पर लाने के लिए जल्द ही आ रही हूं. मैं अब पार्टी के पतन को बर्दाश्त नहीं कर सकती. पार्टी को एकबार फिर एकजूट किया जाएगा.", शशिकला के इस बयान के साथ ही एक बार फिर तमिलनाडु की राजनीति में बदलाव की अफवाह फैलानी शुरू हो गई है.

मालूम हो कि शशिकला सालों पहले अन्नाद्रमुक से अलग हो गई थीं. छह अप्रैल को होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले यह घोषणा करने के बाद कि वह राजनीति से दूर रहेंगी, पार्टी छोड़ने से पहले उन्होंने कहा था कि वह “अंदरूनी लड़ाई” के कारण पार्टी को बर्बाद होते नहीं देख सकतीं. हालांकि पार्टी के अंदर हो रही लड़ाई में उन्होंने किसी का नाम तो नहीं लिया लेकिन माना जा रहा है कि को उनका यह बयान शीर्ष दो नेताओं के पलानीस्वामी और ओ पनीरसेल्वम के बीच कथित मतभेदों के संकेत के रूप में देखा जाता है.

फोन पर संक्षिप्त बातचीत आई सामने

एक रिपोर्ट के अनुसार दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता की विश्वासपात्र शशिकला की अपने दो वफादारों के साथ फोन पर संक्षिप्त बातचीत सामने आई है और इससे उनके पुनर्विचार के संकेत मिले हैं. पहले ऑडियो क्लिप में उन्हें यह कहते हुए सुना जा सकता है, “हम निश्चित रूप से पार्टी को सुव्यवस्थित करेंगे. उनके सहित नेताओं की कड़ी मेहनत के माध्यम से और “उन्हें लड़ते हुए” देखना पीड़ादायक था, और को पार्टी के बर्बाद के लिए छोड़ कर मूकदर्शक नहीं हो सकती.

जल्द ही पार्टी समर्थकों से मिल सकती है

इसलिए, शशिकला ने कहा कि वह जल्द ही आएंगी और कोरोनोवायरस की दूसरी लहर फीकी पड़ने के बाद समर्थकों से मिलेंगी. उन्होंने बातचीत के दौरान कहा कि पार्टी को अच्छे आकार में वापस लाया जा सकता है. फिलहाल इसके लिए ज्यादा चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि जल्द ही एक अच्छा फैसला होगा और वह जल्द ही आएंगी.

Share this story