Lakhimpur Kheri Case: लखीमपुर कांड में SIT ने दायर की 5000 पन्नों की चार्जशीट, गृह राज्य मंत्री के बेटे को बनाया मुख्य आरोपी

Lakhimpur Kheri Case: लखीमपुर कांड में SIT ने दायर की 5000 पन्नों की चार्जशीट, गृह राज्य मंत्री के बेटे को बनाया मुख्य आरोपी

संवाददाता अंकित कुमार 

Lakhimpur Kheri Case: यूपी के लखीमपुर में किसानों को गाड़ी से कुचलने के मामले में करीब पांच हजार पन्नों की चार्जशीट दाखिल कर दी गई.

Lakhimpur Kheri Violence: लखीमपुर हिंसा मामले में SIT ने चार्जशीट फाइल कर दी है.

5000 पन्नों की इस चार्जशीट में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा उर्फ मोनू भइया को मुख्य आरोपी बनाया गया है. SIT ने CJM कोर्ट में ये चार्जशीट दायर की. आशीष मिश्रा समेत 16 लोगों को आरोपी बनाया गया है. बड़ी बात ये है कि इस चार्जशीट में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के एक और करीबी वीरेंद्र शुक्ला को भी आरोपी बनाया गया. अब मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा सहित कुल 16 आरोपी हो गए.

पिछले साल 3 अक्टूबर को आशीष मिश्रा के समर्थकों और किसानों के बीच संघर्ष के दौरान 8 लोगों की मौत हो गई थी. विवेचक ने आशीष मिश्रा समेत अन्य आरोपियों को हत्या का आरोपी बनाया है. चार्जशीट के मुताबिक, सोची समझी साजिश के तहत धरना प्रदर्शन कर रहे किसानों को जीप और SUV से कुचला गया था.

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा 'टेनी' के पुत्र आशीष मिश्रा और उसके दर्जन भर साथियों के खिलाफ 4 किसानों को थार जीप से कुचलकर मारने और उन पर फायरिंग करने जैसे कई गंभीर आरोप है. आशीष मिश्रा अपने साथियों समेत उपरोक्‍त आरोपों में जेल में बंद है. आशीष मिश्रा और उसके साथियों के खिलाफ किसानों की तरफ से दी गई तहरीर के आधार पर हत्या, हत्या के प्रयास समेत कई गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया गया है.

Share this story