UP Election 2022: जौनपुर में बोले  AIMIM चीफ असदुद्दीन औवेसी- 'बीजेपी, सपा और कांग्रेस बैठकर तय करें मैं किसका एजेंट हूं

UP Election 2022: जौनपुर में बोले  AIMIM चीफ असदुद्दीन औवेसी- 'बीजेपी, सपा और कांग्रेस बैठकर तय करें मैं किसका एजेंट'

ओवैसी ने कहा कि बीजेपी कहती है ओवैसी समाजवादी पार्टी के एजेंट हैं. सपा का कहना है कि ओवैसी बीजेपी के एजेंट हैं. कांग्रेस मुझे बीजेपी की B टीम बताती है.

आप तीनों ये तय कर लें कि मैं किसका एजेंट हूं.

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी गुरवार को जौनपुर पहुंचे. यहां जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने बीजेपी, सपा और कांग्रेस पर सीधा हमला बोला. उन्होंने इन तीनों दलों द्वारा 'एजेंट' बताए जाने का पलटवार किया. ओवैसी ने कहा कि तीनों पार्टियां ये तय कर लें कि मैं आखिर किसका एजेंट हूं.

'तय करें मैं किसका एजेंट'
ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि "आपने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को यह कहते हुए सुना होगा कि ओवैसी समाजवादी पार्टी के एजेंट हैं. सपा का कहना है कि ओवैसी बीजेपी के एजेंट हैं. कांग्रेस कहती है कि मैं बीजेपी की B टीम हूं. मैं उन सभी से कहना चाहता हूं कि तीनों बैठकर आपस में ये तय कर लें कि मैं किसका एजेंट हूं."

योगी ने बताया सपा का एजेंट
इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ओवैसी को समाजवादी पार्टी का एजेंट बताया था. उन्होंने कहा, ''उस व्यक्ति को चेतावनी देता हूं जो सिटीजनशिप एक्ट संशोधन के नाम पर लोगों को भड़काने का काम फिर से कर रहा है. जनता जानती है कि ओवैसी समाजवादी पार्टी का एजेंट बनकर प्रदेश में प्रवेश कर चुका है. वो लोगों की भावनाओं को भड़काने का काम कर रहे हैं. लेकिन उत्तर प्रदेश अब इस दिशा में आगे बढ़ चुका है, अब दंगा नहीं दंगा मुक्त प्रदेश बन चुका है.''

कांग्रेस ने कहा 'वोट कटवा'
वहीं बिहार चुनाव के समय कांग्रेस ने असदुद्दीन ओवैसी पर सवाल खड़े किए थे और उन्हें 'वोट कटवा' बताया था. कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी ने कहा था कि बिहार विधान सभा चुनाव में बीजेपी ने ओवैसी की पार्टी का इस्तेमाल की रणनीति बनाई जो कहीं ना कहीं सफल रही. वहीं रणदीप सिंह सुरेजवाला ने ओवैसी को बीजेपी का एजेंट बताया था.
योगी आदित्यनाथ बोले- गन्ने की मिठास बढ़ेगी या जिन्ना के अनुयायी उत्पात मचाएंगे, देश को फैसला करना होगा

Share this story