ताजमहल पर डेनमार्क की प्रधानमंत्री :पति के साथ गोल्फ कोर्ट से पहुंचीं स्मारक, दुनिया के सातवें अजूबे को निहारा

ताजमहल पर डेनमार्क की प्रधानमंत्री :पति के साथ गोल्फ कोर्ट से पहुंचीं स्मारक, दुनिया के सातवें अजूबे को निहारा

डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेट फ्रेड्रिक्सन शनिवार रात विशेष विमान से आगरा आईं। ताज पूर्वी गेट स्थित होटल अमर विलास के सुईट में रात्रि विश्राम के बाद वह रविवार सुबह ताज और किले का दीदार करने निकलीं। रविवार सुबह उनके दौरे के कारण ताजमहल और आगरा किला पर्यटकों के लिए दो घंटे तक बंद किया गया है। डेनमार्क की प्रधानमंत्री पति के साथ होटल अमर विलास से ताजमहल गोल्फ कोर्ट से पहुंचीं। यहां अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। वहीं रास्ते में जगह-जगह ढोल-नगाड़ों से उनका स्वागत किया गया। बताया गया है कि ताजमहल पहुंचकर उन्होंने एएसआई अधिकारियों से यहां की पच्चेकारी के बारे में जानकारी ली। ताजमहल के एक-एक कोने को बारीकी से देखा है। ताजमहल की उन्होंने जमकर तारीफ की है। करीब दो घंटे ताजमहल में रुककर मेट फ्रेड्रिक्सन आगरा किला देखने पहुंचेंगी।

ताज में नहर की सफाई, पौधों की छंटाई, रंगाई
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के जनवरी 2020 में हुए दौरे के बाद अब कोई वीवीआईपी मेहमान ताज के दीदार के लिए आए हैं। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेट फ्रेडिक्सन के ताज दौरे को देखते हुए रॉयल गेट से मुख्य गुंबद के बीच नहर की सफाई का काम कराया।
डायना सीट के पास सेंट्रल टैंक के पानी को बदला
एएसआई कर्मचारियों ने नहर और डायना सीट के पास सेंट्रल टैंक के पानी को बदला और सफाई के साथ रंगाई की। नहर के किनारे बने लाल पत्थर के पाथवे के दोनों ओर लगे पौधों की छंटाई की गई, वहीं पेड़ों के निचले हिस्से सफेद रंग से रंगे गए। रॉयल गेट के पत्थरों और दरवाजों की धुलाई की गई, वहीं मुख्य गुंबद पर संगमरमर पर लगे दाग हटवाए गए।

Share this story