UP: झांसी स्टेशन का नाम बदलकर हो जाएगा 'वीरांगना लक्ष्मीबाई', लोगों ने जताई नाराजगी, आम आदमी पार्टी ने कहा- करेंगे विरोध

UP: झांसी स्टेशन का नाम बदलकर हो जाएगा 'वीरांगना लक्ष्मीबाई', लोगों ने जताई नाराजगी, आम आदमी पार्टी ने कहा- करेंगे विरोध

उत्तर प्रदेश के झांसी स्टेशन का नाम जल्द ही बदलकर वीरांगना लक्ष्मीबाई हो जाएगा. वहीं स्टेशन का नाम बदलने जाने से कुछ लोग नाखुश हैं. वहीं आप पार्टी ने विरोध करने की बात कही है.

झांसी: उत्तर प्रदेश सरकार झांसी स्टेशन का नाम बदलने जा रही है. इसका नाम बदलकर वीरांगना लक्ष्मीबाई किया जा रहा है. सूबे की सरकार ने इसका प्रस्ताव गृह मंत्रालय को भेजा है.वहीं स्टेशन का नाम बदले जाने से कुछ झांसीवासी नाखुश है.

झांसी आम आदमी की जुबान पर है, नाम बदलने से समस्याएं कम नहीं होंगी. फिर तो देश का नाम नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश का नाम योगी आदित्यनाथ कर दिया जाए. भ्रष्टाचार चरम पर है मैंने बिजली कनेक्शन के लिए 3 साल पहले अप्लाई किया था. चक्कर काट काट कर परेशान हो गए. पहले भवन नक्शे की कॉपी मांगी जा रही थी, कॉपी उपलब्ध कराने के बावजूद चक्कर काटना पड़ता रहा है. पिछली सरकारों की तुलना में कई गुना भ्रष्टाचार बढ़ चुका है. उन्होंने कटाक्ष किया कि क्या झांसी स्टेशन का नाम वीरांगना लक्ष्मीबाई रखने से सभी समस्याएं और गरीबी खत्म हो जाएगी.

झांसी स्टेशन का नाम बदला तो आम आदमी पार्टी करेगी विरोध

वहीं आम आदमी पार्टी की संस्थापक सदस्य और यहां की आम आदमी पार्टी नेता अर्चना गुप्ता ने बताया झांसी का नाम विश्व प्रसिद्ध है. अगर स्टेशन का नाम वीरांगना लक्ष्मीबाई किया जाता है तो हम इसका विरोध करेंगे. इसके लिए हमारी पार्टी के स्थापना दिवस में आगे की रणनीति तय की जाएगी. झांसी भी ऐतिहासिक नाम है इसको नहीं बदला जाना चाहिए. किसी का नाम बदलने से कुछ भी नहीं होता है.इससे तो पूरे विश्व का मानचित्र बदल जाएगा. कोई विकास कार्य नहीं कर रहे हैं इससे क्या फर्क पड़ेगा.

व्यापारियों ने नाम बदलने के फैसले को बताया शानदार

ईशान बेरोजगार खान सीपरी बाजार के टंडन रोड पर रेडीमेड व्यवसाय करते हैं, इनका कहना है झांसी स्टेशन का नाम वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई रखा जा रहा है, यह बहुत ही बढ़िया कदम है. नाम बदलने का निर्णय शानदार है.

क्या कहना है झांसी मंडल रेलवे का

हमने इस संबंध में झांसी मंडल रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी मनोज कुमार सिंह से बात की उनका कहना था कि राज्य सरकार ने प्रस्ताव गृह मंत्रालय को भेजा है झांसी मंडल से उसका कोई लेना-देना नहीं है. झांसी स्टेशन का नाम वीरांगना लक्ष्मीबाई कब तक होगा इसके बारे में वह कह नहीं सकते.

बता दें कि झांसी का बहुत ही ऐतिहासिक महत्व है. रानी लक्ष्मीबाई का नाम झांसी वाली रानी से भी विश्व विख्यात है. नाम बदलने से झांसी विलुप्त हो जाएगा. 1857 में झांसी की रानी ने महिलाओं की फौज बनाई थी, इसी फौज ने अंग्रेजों के दांत खट्टे कर दिए थे. झांसी का नाम बदले जाने से झांसी की रानी की बजाय वीरांगना लक्ष्मीबाई हो जाएगा और झांसी विलुप्त हो जाएगा.

Share this story