पाकिस्तानी की टैक्स चोरी कर विदेशों में जमा कराई गई दौलत की जांच की जाएगी

ok

पाकिस्तान से सोमवार को प्रकाशित होने वाले अधिकांश समाचार पत्रों ने पंडोरा पेपर लीक की खबरें प्रमुखता के साथ प्रकाशित की हैं।

अखबारों ने लिखा है कि दुनियाभर में इस पेपर लीक की वजह से कोहराम मच गया है। अखबारों ने कई केंद्रीय मंत्रियों के साथ पाकिस्तान के 700 लोगों की विदेशों में टैक्स चोरी करके जायदाद बनाने की खबरें प्रकाशित की हैं। अखबारों ने लिखा है कि नाजायज दौलत बेनकाब हो गई है। अखबारों ने लिखा है कि इस मामले में 1.19 करोड़ फाइलों को खंगाला गया है, जिसमें दुनियाभर के 200 से ज्यादा देशों के 29000 कंपनियों का पर्दाफाश किया गया है।

अखबारों ने लिखा है कि इस मामले के सामने आने के बाद प्रधानमंत्री इमरान खान ने जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा है किसी भी पाकिस्तानी की टैक्स चोरी कर विदेशों में जमा कराई गई दौलत की जांच की जाएगी। पाकिस्तान के वित्त मंत्री शौकत तरीन की कंपनियों का भी नाम इसमें आने पर हंगामा मचा हुआ है। अखबारों ने लिखा है कि हालांकि शौकत तरीन ने इससे पल्ला झाड़ा है लेकिन विपक्षी दलों के जरिए उन पर निशाना साधा जा रहा है।

अखबारों ने चुनाव आयोग के सत्ताधारी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी की विदेशी फंडिंग के मामले की जांच में असफल रहने की खबरें भी दी है। अखबारों ने में लिखा है कि चुनाव आयोग 2014 से लेकर अब तक पीटीआई के अकाउंट की जांच नहीं कर पाया है।

Share this story